jigar pandya
न जाने इन बूँदो से क्या रिश्ता हे मेरा, जभी जमी को मिलने आती है मुझसे दो बाते कर के ही जाती हे। शायद जमी से जुड़ा हु में इसलिए हर बार हाले दिल की खबर पूछ कर जाती हे। रिश्तों का अहेसास दिला ने आती हे , ये बुँदे न जाने क्यों........
#Monsoon
edit post
Reactions: 
1 Response

Post a Comment